फिल्म लेखक निर्देशक उदय सेनापति की किताब ‘सिने निर्माण’ का मुंबई में लोकार्पण

0

दोपहर संवाददाता
मुंबई। फिल्म मेकिंग पर उपयोगी पुस्तक ‘सिने निर्माण’ के अनावरण के अवसर पर अभिनेता मिथिलेश चतुर्वेदी सुनील पाल, दिलीप सेन, अली खान, पुष्पा वर्मा, मदन जोशी, रमेश गोयल की उपस्थिति प्रमुख रही।बॉलीवुड की चमक दमक से देश के कोने कोने में मौजूद सिनेमा प्रेमी प्रभावित होते हैं और दिल में इस फिल्मी दुनिया में कुछ करने का सपना सजाते हैं। लेकिन आम तौर पर वे अपना कैरियर कैसे फिल्मों में बनाएं, उन्हें कुछ पता नहीं होता। ऐसे ही सपने देखने वालों को गाइड करने के लिए फिल्म लेखक निर्देशक उदय सेनापति ने एक कारगर पुस्तक लिखी है जिसका नाम है ‘सिने निर्माण’।
मुंबई के कंट्री क्लब में हुए एक शानदार कार्यक्रम में उदय सेनापति की इस बुक को लॉन्च किया गया तो वहां बॉलीवुड की कई हस्तियां मौजूद थीं जिनमें मुख्य अतिथि के रूप में सुनील पाल और दिलीप सेन मौजूद थे साथ ही कार्यक्रम में रमेश गोयल, अली खान, पुष्पा वर्मा, मदन जोशी, हीरो राजन कुमार इत्यादि मौजूद थे। इस स्पेशल बुक लांच के अवसर पर उदय सेनापति ने कहा कि उन्हें इस किताब को लिखने में ढाई साल लगे। इसमें 23 अध्याय है, जो निर्माता निर्देशक कलाकार लेखक बनने वालों के लिए मार्गदर्शक का काम करेंगे। इस प्रोग्राम के सेलिब्रिटी मैनेजर प्रमोद सिंह थे।
1964 में बिहार के छपरा में जन्मे उदय सेनापति कई दशकों से फिल्मी दुनिया में सक्रिय रहे हैं। वह कई फिल्म पत्रिकाओं के संपादक के रूप में भी अपनी सेवाएं दे चुके हैं। अपने इन्हीं तमाम अनुभवों को उन्होंने इस किताब में समेट दिया है जो बेहद उपयोगी पुस्तक है। सुनील पाल ने कहा कि यू एस में हॉलीवुड है जबकि बॉलीवुड में यू एस है, जी हां यू एस अर्थात उदय सेनापति। बॉलीवुड के इस सेनापति को सलाम जिसने इतनी बेहतरीन और उपयोगी पुस्तक लिखी है जो स्ट्रगलर के लिए मील का पत्थर सिद्ध होगी। इस बुक लॉन्च के अवसर पर संगीतकार दिलीप सेन ने कहा कि इस किताब की अहमियत का अंदाजा आप इस बात से लगा सकते हैं कि इसमें फिल्म इंडस्ट्री के लगभग हर क्षेत्र के बारे में विस्तार और गहराई से जानकारी मौजूद है। अमिताभ बच्चन के साथ खुदा गवाह जैसी फिल्म में काम कर चुके अली खान ने बुक लॉन्च के मौके पर लेखक उदय सेनापति को मुबारकबाद देते हुए कहा कि उन्होंने इस किताब को लिखकर और छपवाकर एक नेक कदम उठाया है। यह किताब खासतौर पर उन सिने प्रेमियों के लिए एक अनमोल तोहफा है जो मुंबई से दूर यूपी, बिहार, मध्यप्रदेश या दिल्ली में रहते हैं और फिल्मी दुनिया में काम करने के इच्छुक हैं।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)