हवा बदले हस्सू में स्मिता तांबे

0

सामाजिक जागरूकता में कुछ कलाकार अपनी विशेष भूमिका निभाते हैं। वर्तमान समय में पूरी दुनिया प्रदूषण की समस्या से जूझ रही है। वाहनों से निकलने वाली विषैली धुंए से वायु प्रदूषण को लेकर अभिनेत्री स्मिता तांबे बड़ी चिंतित हैं और चाहती हैं कि मानव जाति को इसपर नियंत्रण पाने के लिए कारगर उपाय करनी चाहिए एवं पर्यावरण की रक्षा के लिए सभी को एकजुट होना चाहिए।
बता दें कि स्मिता तांबे ने मराठी और हिंदी सिनेमा में भिन्न भिन्न किरदारों को प्रभावपूर्ण ढंग से निभाया है। सिंघम रिटर्न, आजी, नूर और रुख जैसी हिंदी फिल्मों के अलावा कई मराठी फिल्मों में अभिनय करने के साथ साथ वह बेहतरीन विषयों पर बन रही वेब सीरीज में भी काम कर रही हैं।
स्मिता की पहली इंटरनेशनल फ़िल्म ‘अमरीका’ थी जिसमें उन्होंने ‘लाइफ ऑफ पाई’ के एक्टर सूरज शर्मा की मां के किरदार निभायी थी। हाल ही में उनकी एक वेब सीरीज ‘माय नेम इज शीला’ भी रिलीज हुई थी।
21 जून से सोनी लिव डिजिटल प्लेटफार्म पर प्रसारित होने वाली साइंस फिक्शन थ्रिलर वेब सीरीज ‘हवा बदले हस्सू’ में स्मिता ने एक आत्मनिर्भर लड़की आरती का किरदार निभाया है जो पर्यावरण पर पीएचडी करने के साथ साथ सीएनजी पम्प में काम करती है। वहीं उसकी दोस्ती हस्सू नामक रिक्शा चालक से होती है। हस्सू इको फ्रेंडली रिक्शा चलाता है और अपने यात्रियों को वायु प्रदूषण से प्रकृति को होने वाले नुकसान के बारे में जागरूक करता है। हस्सू के विचारों से प्रभावित होकर आरती भी उसके मिशन में सहयोगी बन जाती है।
स्मिता को इस वेब सीरीज का कॉन्सेप्ट बहुत पसंद आया। उन्होंने शूटिंग से पूर्व स्क्रिप्ट पढ़ने के बाद खूब होम वर्क किया तथा अपने साथी कलाकारों से काफी विचार विमर्श करने के बाद कैमरा फेस किया।
इसका दूसरा सीजन साइंस फिक्शन पर आधारित है। निर्माता लेखक प्रोतिक मजूमदार और निर्देशक जोड़ी सप्तराज – शिवा की एक अलग तरह का प्रयोगात्मक सीरीज में काम करने का अद्भुत अनुभव स्मिता को रोमांचित कर दिया है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)