दादासाहेब फाल्के फिल्म फाउंडेशन अवार्ड्स ने चुना वीरेंदर राठौर को बेस्ट फिल्म गुरु

0

दोपहर संवाददाता
मुंबई। लोकप्रिय फिल्म और मीडिया इंडस्ट्री के टैलेंट मेंटर वीरेंद्र राठौर के प्रयासों को तब मान्यता मिली जब प्रतिष्ठित दादासाहेब फाल्के फिल्म फाउंडेशन अवार्ड्स ने न केवल बेस्ट मेंटर – फिल्म अकादमी पुरस्कारों की एक नई श्रेणी लॉन्च की, बल्कि उन्हें इस नए पुरस्कार का पहला प्राप्तकर्ता चुना। यह सराहनीय इसलिए भी है क्योंकि कई प्रसिद्ध फिल्म संस्थानों के ट्रेनर्स को अतीत में इस तरह की मान्यता कभी नहीं दी गई। वीरेंद्र राठौर 5 लाख से भी अधिक फॉलोअर्स के साथ यूट्यूब और विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर प्रसिद्ध हैं।
वह फिल्म उद्योग के बारे में काम से संबंधित जानकारी देने में सबसे आगे है और पहले व्यक्ति है जिन्होंने यूट्यूब पर मुफ्त वीडियो लेसंस शुरू किये, जो कलाकारों को फिल्म इंडस्ट्री से जुड़ने में मदद कर रहे है।
Joinfilms के संस्थापक वीरेंद्र राठौर कहते हैं, “हर किसी को न केवल अपने सपनों साकार करने में सक्षम होना चाहिए, बल्कि धोखेबाजों के जाल में फंसे बिना फिल्मों में काम करना चाहिए।
वे फिल्म उद्योग में उन कलाकारों का समर्थन करने के लिए प्रसिद्ध है जिनका कोई गॉडफादर नहीं है ।
अपने इस मिशन में वीरेंद्र राठौर भारत के विभिन्न शहरों का दौरा लगातार कर रहे हैं और फिल्म कैरियर वर्कशॉप करते हैं। इसके अलावा घर पर प्रतिभा को शिक्षित करने के लिए उन्होंने भारत के पहले ऑनलाइन वीडियो कार्यक्रम भी पेश किए हैं।
सभी नए कलाकार और तकनीशियन उन्हें दिल से प्यार करते है जो ज़ाहिर होता है उन कमैंट्स से जो उन्हें हर रोज़ Youtube Joinfilms चैनल पर मिलते हैं। वीरेंद्र राठौर एक अनुभवी फिल्म निर्माता हैं, जो 2 दशकों से भी अधिक समय से मनोरंजन के क्षेत्र में काम कर रहे हैं। फिल्म और मीडिया इंडस्ट्री के प्रत्येक पहलू से संबंधित अपने असीम ज्ञान के कारण एक सूचना संसाधन बन चुके हैं। फिल्म उद्योग में काम पाने की कोशिश कर रहे युवा कलाकारों की सभी समस्याओं का एक समाधान है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)