फैनी ने मचाई भीषण तबाही

0

06 लोगों की मौत, 160 घायल

दोपहर संवाददाता
भुवनेश्वर। बंगाल की खाड़ी में उठा चक्रवाती तूफान फैनीओडिशा के तट से टकराने के बाद पुरी में भीषम तबाही मचाई है। इसके यहां पहुंचते ही हवा की रफ्तार 240 किमी प्रतिघंटे से ज्यादा हो गई है और भीषण बारिश हुई है। तूफान की तबाही का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि सड़कों पर कुछ भी नजर नहीं आ रहा था।
अब तक इस तूफान की वजह से 6 लोगों के मारे जाने की सूचना है। केंद्र सरकार के गृह मंत्रालय ने 1938 हेल्पलाइन नंबर जारी किया है वहीं ओडिशा में इमरजेंसी नंबर 06742534177 जारी किया गया है।
मौसम विभाग के अनुसार धीरे-धीरे यह तूफान पश्चिम बंगाल की तरफ बढ़ रहा है और बंगाल पहुंचते समय हवाओं की रफ्तार 100 किमी प्रतिघंटे से ज्यादा होगी। बंगाल के अलावा उत्तर प्रदेश, बिहार समेत अन्य राज्यों में भी तूफान का असर नजर आ रहा है।

नौसेना के 3 जहाज तैनात
तटरक्षक बल ने कहा है कि चक्रवाती तूफान फोनी को देखते हुए 34 राहत दलों और चार तटरक्षक पोतों को राहत कार्य के लिए तैनात किया गया है। नौसेना के प्रवक्ता कैप्टन डीके शर्मा ने दिल्ली में कहा कि नौसेना के पोत सहयाद्री, रणवीर और कदमत को राहत सामग्री और चिकित्सा दलों के साथ तैनात किया गया है।

5000 किचन बनाए गए
एनडीआरएफ की 28, ओडिशा डिजास्टर मैनेजमेंट रैपिड एक्शन फोर्स की 20 यूनिट और फायर सेफ्टी डिपार्टमेंट के 525 लोग रेस्क्यू ऑपरेशन में लगे हैं। इसके अलावा स्वास्थ्य विभाग की 302 रैपिड रिस्पॉन्स टीम तैनात की गई हैं। राहत शिविरों में भोजन की व्यवस्था करने के लिए 5000 किचन बनाए गए हैं।

तटीय जिलों में यातायात बंद
ओडिशा के तटीय जिलों में फैनी के दौरान रेल, सड़क और हवाई यातायात पूरी तरह से बंद कर दिया गया। गुरुवार मध्यरात्रि से बीजू पटनायक एयरपोर्ट पर सभी उड़ानें 24 घंटे के लिए रोक दी गई हैं। कोलकाता एयरपोर्ट भी शुक्रवार रात से शनिवार शाम तक बंद रहेगा।

चक्रवात से ओडिशा के 14 जिले प्रभावित होंगे
चक्रवात का ओडिशा के 14 जिलों में असर है। इनमें पुरी, जगतसिंहपुर, केंद्रपाड़ा, बालासोर, भद्रक, गंजम, खुर्दा, जाजपुर, नयागढ़, कटक, गाजापटी, मयूरभंज, ढेंकानाल और कियोंझर शामिल हैं। चक्रवात ओडिशा के बाद पश्चिम बंगाल का रुख करेगा। इसका असर आंध्रप्रदेश और तमिलनाडु के उत्तर-पूर्व इलाकों में भी दिखेगा। बंगाल में पूर्व और पश्चिम मेदिनीपुर, दक्षिण और उत्तर 24 परगना जिले, हावड़ा, हुगली, झारग्राम, कोलकाता के साथ ही श्रीकाकुलम, विजयनगरम और आंध्रप्रदेश का विशाखापत्तनम जिला भी तूफान से प्रभावित हो सकता है।

नवजात का नाम रखा ‘फैनी’
फैनी चक्रवात आने के बाद शुक्रवार को ओडिशा के एक रेलवे अस्पताल में पैदा हुई एक बच्ची का नाम डॉक्टरों ने ‘बेबी फैनी’ रखा है। अधिकारियों ने बताया कि बच्ची का जन्म सुबह 11 बजकर तीन मिनट पर मंचेश्वर के एक रेलवे अस्पताल में हुआ। डॉक्टर ने मां और बच्ची दोनों को सुरक्षित बताया।वह मंचेश्वर स्थित कोच रिपेयर वर्कशॉप में सहायक के तौर पर कार्यरत है। हालांकि अभी यह स्पष्ट नहीं है कि बच्ची के माता-पिता यह नाम रखना चाहते हैं या नहीं।भारतीय मौसम विभाग के अतिरिक्त निदेशक मृत्युंजय महापात्रा ने बताया कि ‘फैनी’ का मतलब सांप का सिर होता है और यह नाम बांग्लादेश द्वारा दिया गया है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)