आईएचसीएल कर पश्चासत लाभ 184 प्रतिशत बढ़ा

0

2018-19 के लिए 50 प्रतिशत के लाभांश की घोषणा की
कर पश्चात लाभ 287 करोड़ रुपए- 11 वर्षों में सर्वोच्चि
ईबीआइटीडीए 25 प्रतिशत बढ़कर 913 करोड़ रुपये पहुंची

दोपहर संवाददाता
मुंबई। द इंडियन होटल्सप कंपनी लिमिटेड (आईएचसीएल), दक्षिण एशिया की सबसे बड़ी हॉस्पिटैलिटी कंपनी, ने 31 मार्च 2019 को समाप्ते चौथी तिमाही एवं वर्ष के लिए अपने समेकित एवं एकीकृत परिणामों की घोषणा की है।
31 मार्च, 2019 को समाप्त वर्ष में, निदेशक मंडल ने 50 प्रतिशत के इक्विटी लाभांश यानी 0.50 रुपये प्रति शेयर की सिफारिश की है। इसमें 2017-18 में दिए गए 40 प्रतिशत और 2016-17 में दिए गए 35 प्रतिशत के लाभांश की तुलना में बढ़ोतरी हुई है। श्री पुनीत चटवाल, एमडी एवं सीईओ, आईएचसीएल ने बताया, “आईएचसीएल अपनी रणनीति “ऐस्पिरेशन 2022” का कार्यान्वडयन करने के लिए सही राह पर है। हमने जिन ब्रांडों की पुनर्कल्पीना की है, उससे हमें भारत एवं लंदन, मक्काा, काठमांडू व दुबई जैसे प्रमुख विदेशी बाजारों में 3200 से अधिक कमरों की इंवेंटरी के साथ 22 होटलों के लिए अनुबंध करने का अवसर मिला। हमने इस वित्तत वर्ष में पांच होटल खोले और हम हर महीने एक होटल खोलने की सुदृढ़ स्थिति में हैं। इसका श्रेय हमारे पास मौजूद सुदृढ़ पाइपलाइन और नए अनुबंध करने की तेज गति को जाता है।”
मार्जिन विस्तार एवं परिसंपत्ति प्रबंधन के लिए कई रणनीतिक पहलों के जरिए मजबूत फंडामेटल्स ने उच्चख रिटर्न पाने में मदद मिली। कंपनी ऐस्पिरेशन 2022 में दिए गए अपने दीर्घकालिक लक्ष्योंज को हासिल करने के लिए प्रतिबद्ध है। साथ ही कंपनी अपने मेहमानों को विश्वपस्त रीय अनुभव प्रदान कर रही है।
श्री गिरिधर संजीवी, ईवीपी एवं सीएफओ, आईएचसीएल ने कहा, “हमारी ग्राहक-केंद्रित अप्रोच और लाभदेयता पर पैनी नजर ने इस साल के लिए ईबीआइटीडीए मार्जिन में 229 बेसिक अंकों की बढ़ोतरी करने में मदद की है। हमने अपनी बैलेंस शीट से इतर नवीकृत ब्रांडों, ग्राहक अनुभवों एवं पेशकशों के माध्यरम से अपने मूल्यन प्रस्ता।व को बढ़ाना जारी रखा है।”

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)