चुनाव के बाद मिस्टर इंडिया होंगे कीर्तिकर : संजय निरुपम

0

निरुपम की सभा में उमड़ा जन सैलाब
29 को न मोदी की लहर रहेगी और न ही कहर

सत्यप्रकाश सोनी/दोपहर
मुंबई। उत्तर पक्षिम मुंबई लोकसभा चुनाव अघाड़ी उम्मीदवार संजय निरुपम को विजयी बनाने हेतु मालाड पूर्व पठान वाड़ी इलाके में दिंडोसी विधानसभा चुनाव समिति चेयरमैन भौम सिंह राठौड़ के नेतृत्व में सभा का आयोजन किया गया।इस मौके पर उत्तर मुंबई जिला के तमाम पदाधिकारी भाग लेकर कांग्रेस के उम्मीदवार संजय निरुपम को भारी मतों से विजयी बनाए जाने का संकल्प लिए। इस मौके पर आए हुए सभी पदाधिकारियो ने वर्तमान मोदी सरकार पर निशाना साधा और देश विरोधी सरकार बताया। खत्म हो गई मोदी की लहर 29 अप्रैल को मोदी की न लहर रहेगी और न कहर रहेगी। उत्तर मुंबई अघाड़ी उम्मीदवार संजय निरुपम खुद को बताया 101 नंम्बर की एम्बुलेंस सेवा।
जो हमेशा 24 घंटे काम करने के लिए तैयार रहती है। वही शिवसेना उम्मीदवार को मिस्टर इंडिया बताया क्योंकि जितने के बाद 5 साल गायब हो जाते है।निरुपम ने बताया कि मोदी इस बार प्रधान मंत्री नही बनेंगे अगर बनेगा कोई तो होंगे राहुल गांधी। निरुपम ने बताया कि गुप्त सूत्रों से जानकारी मिल रही है कि भाजपा सरकार का इसबार जाना तय हो चुका है। जिसके साथ अब शिवसेना को भी जाना पड़ेगा। अपने तो अपने सनम को भी लेकर डूबेंगे भाजपा सरकार। इस मौके पर एनसीपी पूर्व नगरसेवक अजित राव राणे ने बताया कि कीर्तिकर का लड्डू खत्म हो गया है। अब क्या खाक काम करेंगे।जो किसी को पहचानने के लिए 5 मिनट लगाता है वो क्या काम करेगा। सिर्फ 5 साल बर्बाद करेंगे इसलिए कीर्तिकर को वोट देकर अपना कीमती वोट बेकार न करें। वही कांग्रेस माइनॉरिटी सेल जिला अध्यक्ष व क्रान्ति नगर के रहवासी सरवर खान ने मोदी सरकार की चुनावी नीति पर जमकर बरसे कहाँ भाजपा सरकार अब सिर्फ अली और बजरंग बलि के नाम पर वोट मांग रही है। क्योंकि आम जनता का काम कुछ नही किया है। सिर्फ जनता को जुमले दिया है। सभा मे मौजूद सलीम खान (जनता दल पार्टी प्रमुख) ने कहां की कांग्रेस का स्वच्छ मशीन अभियान के तहत ईवीएम मशीन पर कमल की बटन को गंदा मत करना क्योंकि भाजपा नाराज हो जाएगी इसके लिए सिर्फ हाथ के पंजे का बटन दबाना क्योंकि अब कांग्रेस भाजपा की सफाई करने का संकल्प लिया है।सभा के दौरान मुंबई सचिव संदीप सिंह ने बताया कि गरीबो की आवाज अगर कोई है तो वो है संजय निरुपम है।
शिवसेना का उम्मीदवार अपने लिए वोट नही मांग रहे है बल्कि मोदी के लिए वोट मांग रहे है तो यहां की समश्या का काम कौन करेगा शिवसेना या मोदी?महिला मंडल की तरफ से पूर्व मेयर निर्मला सावंत राकांपा ने बताया कि शिवसेना सिर्फ मराठी वोट लेती है लेकिन मराठियों के लिए कोई काम नही करती है। इसलिए मराठी भाइयों शिवसेना को वोट देकर अपना वोट बर्बाद न करें।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)