लोकल ट्रेन के गेट पर खड़े रहने वाले यात्रियों पर कार्रवाई

0

आरपीएफ एवं जीआरपी ने छेड़ा अभियान
48 पुरुष तथा 25 महिला यात्री शामिल
विनीत तिवारी/ दोपहर
दिवा। सुबह के समय पीक आवर में लोकल ट्रेन के दरवाजे पर खड़े रहने वाले यात्रियों के विरुद्ध अब आरपीएफ एवं जीआरपी ने अभियान छेड़ दिया है। इस अभियान के तहत 48 पुरुष यात्री तथा 25 महिला यात्रियों के खिलाफ कार्रवाई की गई है। मालूम हो कि बीते दिनों ट्रेन में न चढ़ पाने से नाराज कुछ महिलाओं ने ट्रेन के आगे खड़ी होकर अपनी नाराजगी जाहिर की थी। बतादें कि सुबह शाम के समय पीक आवर में यात्रियों द्वारा दरवाजा जाम कर देने के कारण चढ़ने एवं उतरने वाले यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। इसी समस्या के चलते कभी कभी तो मारपीट की नौबत आ जाती है। लोकल ट्रेन में यात्रियों द्वारा जारी शिकायत पर यह कदम वरिष्ठ मंडल सुरक्षा आयुक्त के.के. अशरफ तथा सहायक सुरक्षा आयुक्त ज्योति मनी के मार्गदर्शन एवं दिवा आरपीएफ के सीनियर पीआई जेपी. एस. यादव व जीरपी की ढाकले मैडम के नेतृत्व में लगातार कार्रवाई की जा रही है। पिछले सप्ताह से जारी इस कार्रवाई में रेलवे अधिनियम की धारा 155(2) के तहत की गई है। जिसमें 200 रुपये का दंड का प्रावधान है। जेपी.एस. यादव ने बताया कि दरवाजे पर खड़े रहने वाले यात्रियों के खिलाफ लगातार कार्रवाई जारी रहेगी।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)