अपराध की अंतहीन गाथा है पहाड़गंज

0

दोपहर संवाददाता
मुंबई। बीते दिनों मुंबई के एक थियेटर हॉल में आने वाली फिल्म पहाड़गंज का प्रेस शो रखा गया। फिल्म निर्देशक राकेश रंजन कुमार की फिल्म ‘ पहाड़गंज ‘ में आधुनिक समाज में चल रही सामाजिक कुरीतियों और गतिविधियों को दर्शाया गया है। डायरेक्टर ने एक अच्छा प्रयास किया है परंतु जिस नजरिये से डायरेक्टर ने फ़िल्म बनाया है वह दर्शकों के हृदय तक पहुंच पाती है या नहीं यह तो आने वाले समय में दर्शकों पर ही निर्भर करेगा और वहीं इसका सही मूल्यांकन कर सकेंगे।हालांकि एक व्यक्ति की वेदना और एक औरत की मानसिक स्थिति को पर्याप्त ढंग से दिखा पाने में निर्देशक ने भरसक कोशिश की है।
फिल्म में स्पेन से आई लड़की लॉरा कोस्टा के दृष्टिकोण से दर्शाया गया है। वह अपने बॉयफ्रेंड रॉबर्ट को दिल्ली के पहाड़गंज एरिया में ढूंढने आती है जो गायब हो चुका है।फ़िल्म में दो गाने औसत दर्जे के हैं । कलाकारों का अभिनय भी साधारण है । रहस्य और रोमांच लाने की निर्देशक ने भरपूर कोशिश की है।
फिल्म जल्द ही इस चुनावी मौसम में आपके नजदीकी छवि ग्रहों पर दस्तक देगी।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)