रामनवमी पर साई पूजा गलत परंपरा:रमेश जोशी

0

दोपहर संवाददाता
मुंबई। मुंबई कांदीवली पूर्व ठाकुर काम्प्लेक्स स्थित वर्षो पुराना विष्णु धाम ,साई धाम मंदिर से लगातार 23 वर्ष राम नवमी के अवसर पर साई बाबा की पालखी शोभा यात्रा निकाली जाती है। जहां सैकड़ों की संख्या में साई भक्तो ने पालखी में भाग लिया और बढ़ी श्रद्धा से पालखी को पूरे काम्प्लेक्स में दर्शन पूजन कराया। जिसके बाद मंदिर के प्रांगड़ में भक्तो को भोजन रूपी महाप्रसाद को वितरण किया गया। करीब 2 दिन पहले से चलने वाली पालखी की तैयारिओ में मंदिर को दुल्हन की तरह सजाया जाता है जिसमे साई बाबा के अनन्य भक्त राकेश मिश्रा, संतोष मिश्रा, एवं नीरज मिश्रा का विशेष योगदान रहा है।
जिन्होंने बाबा के पुष्प श्रृंगार से लेकर मंदिर प्रांगण में विधुतिय सजावट की जिम्मेदारियां संभाली।
वर्षो पुरानी परंपरा को लेकर विष्णु धाम,साई धाम ट्रस्ट के अध्यक्ष रमेश जोशी ने बताया की रामनवमी पर साई बाबा के पालखी भ्रमण की परम्परा वर्षो पुरानी है।जबकि रामनवमी के अवसर पर भगवान श्री राम जी की पालखी निकालनी चाहिए लेकिन अंधभक्तो की श्रद्धा को कौन समझाए। बताया कि ये परंपरा गलत है जिसको सुधारने की जरूरत है। यही कारण है कि कलयुग में लोगो की बुद्धि भ्रष्ट होती जा रही है। रामनवमी के संबंध सिर्फ भगवान श्री राम से है लेकिन वर्षो पुरानी गलत परम्परा को मानकर लोग अंधभक्ति करते है जिनका सुधार जरूरी है लेकिन अगर सुधार करने जाय तो अन्धश्रद्धालुओ और हिन्दू धर्म के मानने वालों को बुरा लगता है यही कारण है कि हमसब पुरानी परंपरा को जबदस्ती लेकर चलने पर मजबूर है। अब इसका पहल कौन करेगा ये बढ़ा सवाल है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)