प्रकृति के गहन रंगों का विस्तार है अर्जुन की पेंटिंग्स

0

मुंबई के जहांगीर आर्ट गैलरी में चल रही प्रदर्शनी
15 वर्षों से पेंटिंग सिखाने की क्लासेस भी लेते हैं
मुंबई। प्रकृति के रंगो में सुंदरता एवं जीवन का प्रतिबिंब देखने वाले चित्रकार अर्जुन माचीवाले ने बहुत सारी पेंटिंग्स बनाई है.जिसकी प्रदर्शनी अभी हाल ही में मुंबई के जहांगीर आर्ट गैलरी में चल रही है. उनकी प्रत्येक पेंटिंग प्राकृतिक रंगो,झरनों, पहाड़ों, से प्रेरणा लिए हुए है.उनका ऐसा मानना है कि प्रकृति की सभी चीजें उन्हें कुछ न कुछ संदेश देती है.
आवश्यकता है ,हमें उस सकारात्मक नजरिए से देखने की.अर्जुन ने अपनी शिक्षा जे जे स्कूल ऑफ आर्ट से प्राप्त की है .एवं पिछले 21 वर्षों से कला की निरंतर की साधना कर रहे हैं .इतना ही नहीं वह अपना सामाजिक दायित्व समझते हुए इस कला को आने वाली पीढ़ी को भी सिखा रहे हैं. उनका यह कहना है कि जो चीज समाज से मुझे मिली है .जो कला मैंने समाज से सीखी है.उसे आने वाली पीढ़ी को मैं जरूर समर्पित करना चाहूंगा. ताकि कला के सृजनता की प्रक्रिया निरंतर चलते रहे. इसलिए पिछले 15 वर्षों से मैं लगातार पेंटिंग की रचना के साथ साथ , पेंटिंग सिखाने की क्लासेस भी लेते हैं और उन्हें इस बात का गर्व है कि उनके बच्चे पेंटिंग की सृजनता में उनसे कुछ कदम आगे निकल रहे हैं.
वे हमेशा अपने पेंटिंग का गुर दूसरों को सिखाने के लिए तत्पर रहते हैं. कल उनसे हुई मुलाकात में एक बात तय थी. कि उन्हें अपनी उपलब्धि के बारे में किसी भी बात का जरा सा भी घमंड नहीं है. उनकी पेंटिंग की प्रदर्शनी देश के विभिन्न केंद्रों में लग चुकी है. उनकी प्रदर्शनी में जनता का उन्हें बहुत प्रतिसाद मिल रहा है. अभी हाल ही में चल रही पेंटिंग को मुंबई महानगर की जनता ने बहुत बड़ा प्रतिसाद दिया है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)