1279 उम्मीदवारों की किस्मत ईवीएम में कैद

0

लोकसभा चुनावः पहले चरण में 20 राज्यों की 91 सीटों पर वोटिंग खत्म
‘संघ की गोद’ में गडकरी को कांग्रेस के पटोले की चुनौती
लोकसभा चुनाव 2019 के पहले चरण में बिहार में 50.26%, तेलंगाना में 60.57%, मेघायल में 62%, उत्तर प्रदेश में 59.77%, मणिपुर में 78.20%, लक्षद्वीप में 65.9% और असम में 68% हुई वोटिंग.
महाराष्ट्र में 55 फीसदी मतदान

दोपहर संवाददाता
मुंबई। भाजपा के वरिष्ठ नेता और केंद्र सरकार में सड़क परिवहन व जहाजरानी मंत्री नितिन गडकरी की किस्मत गुरुवार को पहले चरण के मतदान के बाद ईवीएम में कैद हो गई है.कांग्रेस ने नागपुर सीट पर नाना पटोले को चुनाव मैदान में उतारा है, जो पहले भंडारा-गोंदिया से बीजेपी के सांसद रह चुके हैं. दूसरी ओर, गडकरी ने हाई प्रोफाइल मंत्रालयों का दायित्व संभालकर नागपुर के विकास की तस्वीर में अपनी तस्वीर भी जोड़ी है. लोकसभा चुनाव से कुछ ही दिन पहले नागपुर में मेट्रो के पहले चरण की शुरुआत हो चुकी है. माना जा रहा है कि ये तमाम फैक्टर गडकरी के लिए मददगार साबित होंगे.महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडनवीस खुद नागपुर दक्षिण पश्चिम से विधायक हैं.साथ ही यहां की 157 नगर निगम सीटों में 115 बीजेपी के खाते में हैं. महाराष्ट्र की सात और छत्तीसगढ़ की एक सीट पर आज मतदान हो रहा है। महाराष्ट्र में भाजपा-शिवसेना गठबंधन की भिड़ंत कांग्रेस-एनसीपी गठबंधन से है।

दादरी में अख़लाक़ के पूरे परिवार का नाम वोटर लिस्ट से गायब
लखनऊ। 55 साल के मोहम्मद अखलाक को 28 सितंबर 2015 में गोमांस रखने की अफवाह की वजह से लोगों पीट-पीट कर मार दिया था. अख़लाक़ के पूरे परिवार का नाम वोटर लिस्ट से गायब है. गौतमबुद्ध नगर लोकसभा सीट के अंतर्गत आगे वाले बिसहाड़ा निवासी अखलाक का परिवार गुरूवार सुबह वोट डालने के लिए आया था. हालांकि वोटर लिस्ट चेक करने पर पता चला कि परिवार के किसी भी सदस्य का नाम अब वोटर लिस्ट में मौजूद नहीं है.चुनाव का प्रशासन देख रहे ब्लॉक स्तर के अधिकारियों का कहना है बीते कई महीने से अखलाक के घर में कोई सदस्य नहीं रह रहा था यही वजह है कि वोटर लिस्ट से उनका नाम हटा दिया गया होगा. अखलाक के परिवार ने लिंचिंग की घटना के बाद सुरक्षा कारणों से गांव छोड़ दिया था लेकिन गुरूवार सुबह वोट डालने के लिए आए थे. बहरहाल परिवार के किसी भी सदस्य ने इस मामले में कुछ कहने से इनकार कर दिया है.

गढ़चिरौली में मतदान केंद्र के पास बम विस्फोट
महाराष्ट्र के गढ़चिरौली जिले में एटापल्ली तालुक में गुरुवार को नक्सलियों ने सत्रहवीं लोकसभा के लिए पहले चरण के मतदान के दौरान वागेजारी मतदान केंद्र के पास शक्तिशाली बम विस्फोट किया. विस्फोट में किसी के हताहत होने की खबर नहीं है.सूत्रों ने बताया कि विस्फोट वागेजारी इलाके में मतदान केंद्र से करीब 150 मीटर दूर पूर्वाह्न करीब 11 बजे हुआ. गढ़चिरौली महाराष्ट्र के उन सात लोकसभा क्षेत्रों में से एक है जिनके लिए पहले चरण में कल मतदान हो रहा था. दूसरी तरफ गढ़चिरौली जिले में एटापल्ली इलाके में किये गये आईईडी विस्फोट में दो सुरक्षाकर्मी घायल हो गए। घायल जवानों को इलाज के लिए नागपुर लाया जा रहा है। हमला उस दौरान हुआ जब सुरक्षाकर्मी मतदान दल के साथ बेस कैंप लौट रहे थे।

वर्धा में 20 मिनट देरी से शुरू हुआ मतदान
महाराष्ट्र के वर्धा में बने वोटिंग बूथ पर गुरुवार को 7 के बजाय 7 बजकर 20 मिनट पर मतदान शुरू हो सका था. जानकारी के मुताबिक लोगों की लंबी कतारें लगने के बाद जब वोटिंग शुरू न होने के बारे में पूछा गया तो कहा गया कि अभी वोटिंग मशीन की सील ही नहीं खुली. सील खुलने में लगे समय के करीब 20 मिनट बाद लोग मतदान कर सके.वहीं महाराष्‍ट्र के अन्‍य इलाकों जैसे यवतमाल, भंडारा-गोंदिया, नागपुर आदि जगहों पर तय समय से मतदान शुरू हो गया था. कल लोकसभा चुनाव 2019 का पहले चरण का मतदान था. महाराष्ट्र की सात सीटों के लिये मतदान हो गया है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)