करवटें बदल रहे हैं अनिल अंबानी

0

एरिक्सन को करना है 453 करोड़ का भुगतान
दोपहर संवाददाता
मुंबई। आरकॉम के प्रमुख अनिल अंबानी को आजकल नींद नहीं आ रही है। वह बस रात में करवटें बदल रहे हैं। एक तरफ कोर्ट की तलवार लटकी है तो दूसरी तरफ बीएसएनल भी अपने 700 करोड़ वसूलने के लिए तैयार बैठा है। अनिल अंबानी के लिए अगले 48 घंटे काफी भारी हैं। पहले से ही कर्ज में डूबी कंपनी को सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार एरिक्शन को मंगलवार (19 मार्च) तक 453 करोड़ रुपये चुकाना है। ऐसा न कर पाने पर अनिल अंबानी को 3 माह के लिए जेल भी जाना पड़ सकता है। एक तरफ अनिल अंबानी इस समस्या से जूझ रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ बीएसएनएल ने साफ कर दिया है कि वह आरकॉम के खिलाफ कोर्ट जाएगी और 700 करोड़ रुपये वसूलेगी। इससे पहले बीएसएनएल भुगतान में चूक के लिए आरकॉम की तरफ से जमा की गई करीब 100 करोड़ रुपये की बैंक गारंटी को पहले ही भुना चुकी है।
इन कारणों से अनिल अंबानी के पास एरिक्शन को पैसे देने के लिए विकल्प कम होते जा रहे हैं।

बीएसएनए पहले ही ले चुका था फैसला
सूत्रों के अनुसार बीएसएनएल भुगतान में चूक के लिए आरकॉम द्वारा जमा की गई करीब 100 करोड़ रुपये की बैंक गारंटी को पहले ही भुना चुकी है। वहीं करीब 700 करोड़ रुपये के बकाए की वसूली के लिए आरकॉम के खिलाफ कानूनी कार्रवाई शुरू करने का निर्णय कंपनी के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक अनुपम श्रीवास्तव ने 4 जनवरी को ही ले लिया था। बीएसएनएल ने इस मामले के लिए सिंह एंड कोहली लॉ फर्म को इस काम के लिए हायर किया है। वहीं बीसएएनएल का कहना है कि इस मामले में देरी का कार सभी सर्कल कार्यालयों से आरकॉम के बकाया का विवरण इकठ्ठा किया जा रहा था।

बीएसएनएल भी वसूलेगी 700 करोड़
एन्क्लैट ने दिया अंबानी को झटका
नेशनल कंपनी लॉ एपीलेट ट्रिब्यूनल (एन्क्लैट) में राष्ट्र के बड़े उद्योगपति अनिल अंबानी को तगड़ा झटका लगा है. रिलायंस कम्युनिकेशंस (आरकॉम) की एक याचिका पर निर्णय सुनाते हुए एन्क्लैट ने स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया (एसबीआई) को 259.22 करोड़ रुपए कर रिफंड की धन राशि आरकॉम को जारी करने के लिए किसी तरह का आदेश देने से स्पष्ट मना कर दिया है. एन्क्लैट ने बोला है कि यह उसके अधिकार क्षेत्र में नहीं आता है.

अगले 48 घंटे भारी, जाना पड़ सकता है जेल
आरकॉम को कल तक चुकाना है एरिक्सन का बकाया
आरकॉम को एरिक्सन को 453 करोड़ रुपये का भुगतान करने में दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है। सुप्रीम कोर्ट ने आरकॉम को भुगतान करने के लिए 19 मार्च तक का समय दिया है। यदि कंपनी ऐसा करने में विफल रहती है, तो अनिल अंबानी को तीन महीने की जेल हो सकती है। आरकॉम पहले ही एरिक्सन को 118 करोड़ रुपये का भुगतान कर चुकी है। आरकॉम ने एनसीएलएटी से कहा थी कि एसबीआई के नेतृत्व वाले 37 ऋणदाताओं को 260 करोड़ रुपये सीधे एरिक्सन को जारी करने के निर्देश दिए जाएं, हालांकि, ऋणदाताओं ने इस याचिका का विरोध किया है। इसके चलते यह पैसा दिया जाएगा कि नहीं यह अभी तक तय नहीं हो पाया है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)