तीसरी आँख से पकड़ा गया जेब कतरा

0

आरोपी ने अपना गुनाह कबूल किया
दोपहर संवाददाता
विरार। सीसीटीवी फुटेज के जरिए विरार आरपीएफ द्वारा बैग से चोरी करने वाला शातिर अपराधी को स्टेशन के प्लेटफार्म से धर दबोच कर वसई जीआरपी पुलिस के हवाले किये जाने का मामला सामने आया है। आगे की जाँच जीआरपी वसई कर रही है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार सीसीटीवी रूम में रोजाना डियूटी पर तैनात कांस्टेबल अनिल यादव ने समय 11.05 बजे पर टीओपीबी डियूटी में तैनात हेड कांस्टेबल मुकेश त्यागी को फोन से सूचित किया कि स्टेशन के प्लेटफार्म नं 02 पर एक व्यक्ति किसी यात्री के बैग से चेन खोलकर कुछ सामान ले जाता दिखा है, जिस पर हेड कांस्टेबल त्यागी ने फ़ोटो व्हाटसअप करने को कहा। इसके बाद फ़ोटो में दिख रहे संदिग्ध व्यक्ति की तलाश टीम के टीओपीबी टीम के हेड कांस्टेबल मुकेश त्यागी व दीपक पाटिल द्वारा जोर- शोर खोजबीन शुरू कर दी। इसी दौरान पीड़ित/शिकायकर्ता भी बेग में से पर्स चोरी की शिकायत ले कर आरपीएफ कार्यालय आ गया।
संदिग्ध आरोपी ब्रिज पर दिखा, जिसे टीओपीबी टीम ने पकड़ कर आरपीएफ कार्यालय में लाया। जहां उसकी तलाशी हेड कांस्टेबल त्यागी ने एसआइपीएफ -सुधाकर सिंह के समक्ष ली , जहाँ उक्त आरोपी के पास से 400 रूपये व 02 लेदर पर्स मिले जिसमे 01 पर्स के अंदर सचिन सोरटे नाम के व्यक्ति के डाकुमेंट मिले तथा दूसरे में मधुकर व्यास नाम के डाकुमेंट थे। दोनो पर्स के बारे में पूछने पर आरोपी ने अपना जेब कतरी का गुनाह कबूल किया।

 

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)