Friday, February 22, 2019
होम ब्लॉग

युवासेना ने कश्मीरी छात्रों पर किया हमला

0

यवतमाल के एक ही कॉलेज में पढ़ रहे है पीड़ित छात्र
आतंकी हमले पर देश भर में आक्रोश है: आदित्य ठाकरे

दोपहर/मधुसूदन तिवारी
नागपुर। पुलवामा में आतंकी हमले के बाद कश्मीरी छात्रों से मारपीट की एक नई घटना में शिवसेना की युवा इकाई युवा सेना के सदस्यों ने यवतमाल में एक कॉलेज में पढ़ रहे कश्मीरी छात्रों पर हमला किया और उन्हें धमकी दी। पुलिस ने बृहस्पतिवार को बताया कि हमला बुधवार की देर रात हुआ। छात्रों को धमकी भी दी गयी। घटना के बारे में पूछे जाने पर युवा सेना के प्रमुख आदित्य ठाकरे ने कहा, पुलवामा आतंकी हमले पर देश भर में आक्रोश है। यवतमाल में मारपीट की घटना की वह जांच करवाएंगे और सच सामने आने पर आवश्यक कार्रवाई करेंगे।
पुलिस ने बताया कि सोशल मीडिया पर घटना का एक वीडियो वायरल हुआ है और यवतमाल थाने में एक मामला दर्ज किया गया है। रात में करीब दस बजे वाघापुर रोड पर किराये के मकान के बाहर छात्रों पर हमला हुआ। उन्होंने बताया कि छात्र दयाभाई पटेल फिजिकल एजुकेशन कॉलेज के थे। यवतमाल के एसपी एम राजकुमार ने बताया कि युवा सेना के कार्यकर्ताओं ने लोहारा थाना अंतर्गत वैभव नगर में रहने वाले कुछ कश्मीरी छात्रों पर हमला किया और उन्हें धमकी दी । राजकुमार ने बताया, ‘‘खाना खाने के बाद जब कश्मीरी छात्र वापस लौट रहे थे तभी युवा सेना के कार्यकर्ताओं ने उन्हें रोक लिया और थप्पड़ मारे। घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर आया है। पीड़ितों ने बृहस्पतिवार को लोहारा थाने में शिकायत दर्ज करायी। पुलिस ने आरोपियों की पहचान कर ली है और घटना के मुख्य आरोपी को पकड़ लिया है। ’’ एक पीड़ित छात्र ने कहा, कि हमसे कहा गया कि यहां रहना है तो वंदे मातरम कहना होगा। बुधवार शाम जब हम बाजार से लौट रहे थे तो उन्होंने थप्पड़ मारे और हमसे बदसलूकी की। छात्र ने कहा कि हमलावरों ने हमसे कमरे खाली कर चार दिनों के भीतर कश्मीर लौट जाने को कहा। हमे चेतावनी दी गई कि यदि इस दौरान हम वापस नहीं गये तो वे हमें मार डालेंगे। छात्र ने कहा कि कालोनी के कुछ सदस्यों ने हस्तक्षेप कर हमे बचाया।

सीएम करें तुरंत कार्रवाईः निरुपम
मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष संजय निरुपम ने गुरुवार को कहा कि शिवसेना के युवा कार्यकर्ताओं ने यवतमाल में पढ़ने वाले दो कश्मीरी युवकों पर किया गया हमला बहुत ही निंदनीय और दुर्भाग्यपूर्ण है। मैं इस घटना की घोर विरोध करता हूं। जिन युवकों की पिटाई की गई। वे युवा कश्मीर के निवासी हैं, जो पढ़ने के लिए यहां आए हैं। कश्मीर भारत का हिस्सा है। इसलिए, कश्मीरी युवा आपके भाई हैं। यवतमाल पर हमला करने वाले कश्मीरी युवाओं का मतलब है कि आप पाकिस्तान की नीतियों का समर्थन करते हैं। इसलिए, हम अब इस तरह के हमलों को बर्दाश्त नहीं करेंगे। निरुपम ने कहा कि हमने मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से मांग की है कि उन्हें इस मामले में तत्काल नोटिस लेना चाहिए और इस मामले में जो भी दोषी है, उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए।

BCCI लोकपाल होंगे डीके जैन

0

सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज रह चुके हैं
दोपहर संवाददाता
मुंबई। सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज डीके जैन बीसीसीआई के पहले लोकपाल होंगे. लोढ़ा कमिटी की सिफारिशों के मुताबिक तैयार बीसीसीआई के नए संविधान के अनुच्छेद में इसकी व्यवस्था की गई है. इसी के मद्देनजर सुप्रीम कोर्ट ने आज उनकी नियुक्ति का आदेश दिया. हार्दिक पांड्या और केएल राहुल का मामला भी जस्टिस जैन ही देखेंगे. जस्टिस एसए बोबडे और अभय मनोहर सप्रे की बेंच ने कहा- प्रशासक कमिटी (सीओए) के तीसरे सदस्य को लेकर हमारे मन में कुछ नाम हैं. उन पर चर्चा कर हम जल्द ही फैसला लेंगे. फिलहाल सीओए में 2 ही सदस्य विनोद राय और डायना एडुलजी हैं.इसके साथ ही कोर्ट ने प्रशासक कमिटी (सीओए) के सदस्यों के बीच मतभेद के सार्वजनिक होने पर नाराजगी जाहिर की.
कोर्ट ने एमिकस क्यूरी से कहा कि वो सीओए सदस्यों को ऐसा न करने के लिए कहा. सुप्रीम कोर्ट अनुराग ठाकुर की अर्ज़ी पर अगले गुरुवार को सुनवाई करेगा।
अनुराग ठाकुर ने अर्ज़ी में कहा है कि मुझे अवमानना और कोर्ट में गलत जानकारी देने के आरोप में क्रिकेट प्रशासन से दूर किया गया था। अब सुप्रीम कॉर्ट वो मामला बंद कर चुका है।

पीएफ पर ब्याज दर 8.65

0

दोपहर संवाददाता
मुंबई। ईपीएफओ ने 6 करोड़ सब्सक्राइबर्स को तोहफा देते हुए ईपीएफ पर ब्याज की दर बढ़ा दी है। ईपीएफओ ने साल 2018-19 के लिए ब्याज की दर में 0.10 फीसदी की बढ़ोतरी की है। अब आपको ईपीएफ पर 8.65 फीसदी ब्याज मिलेगा। पिछले साल ये दर 8.55 फीसदी थी। पहले अनुमान लगाया जा रहा था कि ब्याज दरें स्थिर रखी जाएंगी।
वित्त वर्ष 2016 के बाद पहली बार पीएफ की ब्याज दरों में बढ़ोतरी हुई है। साल 2012-13 में पीएफ पर 8.5 फीसदी ब्याज दर थी। इसके बाद साल 2013-14 में ये बढ़कर 8.75 फीसदी हो गई। साल 2014-15 में आपको पीएफ पर 8.75 फीसदी ब्याज मिला था। वहीं 2015-16 में ये ब्याज दर बढ़कर 8.8 फीसदी हो गई थी।

गेटवे ऑफ इंडिया को डिजिटली संरक्षित करने की तैयारी

0

40 देशों के 200 से अधिक रिकार्डों को किया एकत्रित
दोपहर संवाददाता
मुंबई। सीगेट टेक्नोलॉजी पीएलसी ने मुंबई के ऐतिहासिक वास्तुकला स्मारक गेटवे ऑफ इंडिया को डिजिटल तरीके से संरक्षित करने के लिए अंतर्राष्ट्रीय गैर-लाभकारी संगठन सीआर्क के साथ साझेदारी की घोषणा की है। इस स्मारक की डिजिटल स्कैनिंग और संग्रहण का काम इस महीने की शुरुआत में शुरू हुआ है। स्थलीय गतिविधियों से प्राप्त आंकड़ों और छवियों को छात्रों, पर्यटकों और सांस्कृतिक विरासत के चाहनेवालों के लिए फोटो-रियल 3डी मॉडल में बदल दिया गया है। वर्ष 1911 में किंग जॉर्ज वी और क्वीन मैरी के इस शहर में आने की याद में बनाया गया, गेटवे ऑफ इंडिया भारत में ब्रिटिश साम्राज्य का एक प्रतीक है। यह वर्ष 1924 में बनकर तैयार हुआ। लगभग एक सदी के दौरान मुंबई में हुए विकास का साक्षी है। इसके पांच सितारा ताज महल पैलेस होटल के नज़दीक होने की वजह से यह देश का पहला ऐसा भवन है, जिसे अपने वास्तुशिल्प डिजाइन के लिए बौद्धिक संपदा अधिकार संरक्षण प्राप्त हुआ है। यह स्मारक अब बॉम्बे के रूप में इस शहर के समृद्ध औपनिवेशिक इतिहास की याद दिलाता ह, और शहर की एक अनौपचारिक पहचान है। वर्ष 2003 के बाद से, सीआर्क ने वियतनाम के ह्यू स्मारकों के परिसर में टुडुक मकबरा और एन डिंह पैलेस, थाईलैंड में वाटफ्रा सी सैन फेट, कंबोडिया में अंगकोर वाट, म्यांमार में बागान और ऑस्ट्रेलिया में सिडनी ओपेरा हाउस सहित 40 देशों के 200 से अधिक विरासत स्थलों के उच्च-तकनीकी डिजिटल रिकार्डों को एकत्रित किया गया है।

वाहन सहित लाखों का माल जब्त

0

दोपहर संवाददाता
वसई। पालघर एसपी दस्ते की ओर से रेती, तंबाखू और अवैध दारू बिक्री को लेकर छापामारी की गयी| इस दौरान दस्ते को वाहन सहित लाखों का माल जप्त किया गया है| पुलिस की ओर से उक्त कार्रवाई के बाद विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है| मामले की छानबीन स्थानीय पुलिस स्टेशन को सौंप दिया गया है|
प्राप्त जानकारी के अनुसार पुलिस अधीक्षक पालघर की अपराध प्रतिबंधक दस्ते के पुलिस उपनिरीक्षक मल्हार थोरात और सहायक पुलिस निरीक्षक सुरेंद्र शिवदे की ओर से वसई विभाग के विरार पुलिस स्टेशन क्षेत्र में पेट्रोलिंग कर रहे थे| पेट्रोलिंग के दौरान पालघर एसपी दस्ते की ओर विरार पूर्व, मनवेलपाड़ा के कारगिल नगर स्थित एकवीरा संकुल नं. 01 के रूम नंबर 101 में रामदेव स्टोर्स दुकान की गोदाम में छापामारी की गयी| दस्ते की इस छापामारी में कुल 2,32,921 रुपये मूल्य का राज्य प्रतिबंधित तंबाखू बरामद किया गया| दूसरी ओर कासा पुलिस स्टेशन अंतर्गत मौजे चारोटी गांव की सीमा क्षेत्र में स्थित एक घर में अवैध दारू बिक्री के लिए रखी गयी थी|
कासा पुलिस के सहायक पुलिस निरीक्षक आनंदराव काले के मार्गदर्शन में पुलिस अधिकारी एवं कर्मचारी की संयुक्त कार्रवाई में पुलिस टीम की ओर से छपामारी करते हुए 12,300 रूपये मूल्य का अवैध दारू बरामद किया गया| इसी तरह डहाणू पुलिस स्टेशन के प्रभारी अधिकारी के मार्गदर्शन में पुलिस अधिकारी व कर्मचारी की टीम द्वारा रेती से भरी वाहनों पर कार्रवाई की गयी| इस दौरान पुलिस को पाटिलपाड़ा स्थित डहाणू चारोटी सड़क पर एक पिकअप क्रमांक (एमएच04-एजी-3384) आ रही थी| पुलिस छानबीन में गाड़ी 25 हजार रूपये कीमत की 1 ब्रास और 100 बोरी सीमेंट से लदी हुई थी| ड्राइवर के पास गाड़ी रेती भरने का किसी भी प्रकार की सरकारी अनुमति मिली हुई थी|ै

भारत की सबसे लंबी किताब ‘द बुक ऑफ यूनिटी’

0

पुस्तक का कॉन्सेप्ट नवनीत एजुकेशन लिमिटेड ने रखा
दोपहर संवाददाता
मुंबई। नवनीत एजुकेशन लिमिटेड द्वारा रेडियो सिटी के सहयोग से एक इवेंट युवा यूनाइट्स इंडिया का आयोजन किया जा रहा है। मुंबई की सड़कों पर 22 से 24 फरवरी तक आयोजित होने वाला यह कार्यक्रम मुंबईवासियों को रोमांचित करने के लिये तैयार है।
इस कार्यक्रम में लोगों को अपनी आवाज बुलंद करने के लिये आमंत्रित किया जा रहा है। भारत की सबसे लंबी किताब ‘द बुक ऑफ यूनिटी’ में एकता पर अपने विचार और राय लिखकर लोग अपनी आवाज दुनिया के सामने रख सकते हैं। इस पुस्तक का कॉन्सेप्ट नवनीत एजुकेशन लिमिटेड ने रखा है और उनके द्वारा ही इसका निर्माण किया गया है। इस किताब को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यालय में भेजा जायेगा।
इस कार्यक्रम की शुरूआत एक देशभक्तिपूर्ण परफॉर्मेंस से होगी और उसके बाद एनजीओ कैंडल प्रोजेक्ट के बच्चों द्वारा फ्लैश मॉब किया जायेगा। कैंडल प्रोजेक्ट भारत का सबसे नया स्वयंसेवी संगठन है। इसके द्वारा कॉन्वेंट/इंटरनेशनल स्कूलों के आर्थिकरूप से वंचित समुदायों के बच्चों को समग्र शिक्षा उपलब्ध कराई जाती है। परफॉर्मेंस के बाद युवा बुक ऑफ यूनिटी में अपने संदेश लिखेंगे।

शिवसेना का उत्तर भारतीयों के साथ सौतेला व्यवहार

0

उनके गुस्से का शिकार हो सकती है पार्टी
सुजीत श्रीवास्तव/ दोपहर
कल्याण। कल्याण डोंबिवली के उत्तर भारतीयों के साथ शिवसेना हमेशा सौतेला व्यवहार करती आ रही है। वर्षों से पार्टी के लिए काम करने वाले उत्तर भारतीय को पार्टी से टिकट नहीं मिल पाता है, किसी ना किसी बहाने से उन्हें टिकट से वंचित कर दिया जाता है।
गौरतलब हो कि कल्याण डोंबिवली क्षेत्र में अक्सर देखने को मिलता है कि किसी भी उत्तर भारतीय को शिवसेना के टिकट से चुनाव लड़ते नहीं देखा गया है। पार्टी के कद्दावर नेता किसी ना किसी बहाने से उनको टिकट देने से वंचित कर देते है। लेकिन इस बार अलग तेवर में उत्तर भारतीय दिखाई दे रहे है।
कुछ शिव सैनिकों ने तो पहले ही जय सिया राम बोलकर दूसरे पार्टी का दामन थाम लिया है। इस चुनाव में अगर शिवसेना उत्तर भारतीयों पर ध्यान नहीं देती है तो उन्हें इसका खामियाजा उन्हें भुगतना पड़ सकता है। भवन निर्माता विनोद मिश्र ने बताया कि अगर इस बार हम उत्तर भारतियों के साथ सौतेला व्यवहार किया गया तो पार्टी को इसका खामियाजा भुगतना पड़ सकता है, हमारे साथ हो रहे दुर्व्यवहार को हम समझते है लेकिन तन मन धन से जुड़े पार्टी को छोड़ने का दिल नहीं करता है।
बाला साहब ठाकरे ने जो हमे सिखाया है कि 80 प्रतिशत समाजसेवा 20 प्रतिशत राजकरण इसी सिद्धान्त पर हम आज भी कायम है लेकिन कल्याण डोंबिवली में हमेशा पार्टी हम लोगों को नजर अंदाज करती आ रही है।
कल्याण डोंबिवली में उत्तर भारतीयों को शिवसेना की तरफ से टिकट मिला तो जनता उन्हें चुन कर देगी। लेकिन पार्टी हम पर विश्वास कर हमें टिकट दे फिर हम जनता के विश्वास पर खरे उतर सकते है। आखिर बीजेपी ने उत्तर भारतीय पर विश्वास कर टिकट दिया जिसका नतीजा यह है कि आज केडीएमसी में एक उत्तर भारतीय नगरसेवक है।

महिला ने खुद की बचाई जान

0

लेट गई ट्रेन के नीचे
दोपहर संवाददाता
कल्याण। जाको राखे साईया मार सके ना कोई ये कहावत कल 60 वर्षीय महिला के ऊपर उस समय फिट बैठा जब महिला के ऊपर से ट्रेन का दो डब्बा गुजर गया उसके बाद भी महिला सही सलामत बच गईं।
जानकारी के अनुसार डोंबिवली स्थित खांबालपाड़ा की रहनेवाली कमल मोहन शिंदे नामक 60 वर्षीय महिला सोमवार को ठाकुर्ली रेलवे स्टेशन पर पटरी क्रॉस कर थी कि उसी दरम्यान एक लोकल ट्रेन आ गयी। अचानक अपनी तरफ आते ट्रेन को देख महिला ने तुरंत दोनो पटरीयों के बीच में लेट गई। मोटरमैन जबतक ट्रेन को पूरी तरह रोक पाते तब तक ट्रेन का दो डब्बा महिला के ऊपर से गुजर चुका था।
ट्रेन के रुकते ही लोगों ने तथा मौके पर तैनात पुलिस कर्मियों ने तत्परता दिखाते हुए महिला को ट्रेन के नीचे से सही सलामत बाहर निकाल लिया। पूरा हादसा स्टेशन पर लगे सीसीटीवी में कैद है।

परेल टर्मिनस मार्च से यात्रियों की सेवा में तैयार

0

स्टेशन का काम बहुत ही तेजी से हो रहा
मुंबई। पश्चिम रेलवे के एलफिंस्टन रोड स्टेशन के पादचारी पुल पर हुई दुर्घटना के बाद यात्रियों की भीड़ को नियंत्रित करने के लिए मध्य रेलवे ने परेल टर्मिनस का काम शुरू किया। परेल टर्मिनस का काम बहुत ही तेजी से हो रहा है। काम अंतिम चरण में है। मिली जानकारी के अनुसार मार्च के पहले सप्ताह में, 3 तारीख को टर्मिनस का शुभारंभ हो सकता है। उल्लेखनीय है कि परेल स्टेशन पर ठहरने वाली ट्रेन के प्लेटफॉर्म का काम पूरा कर लिया गया है। थोड़ा बहुत कार्य बाकी है,जिसे जल्द ही पूरा कर लिया जाएगा। यहां एक और लिफ्ट और एलिवेटर लगाया जा रहा है। डाउन दिशा में प्लेटफॉर्म पर एक एलिवेटर और लिफ्ट लगाया गया है। पूर्व से पश्चिम को जोड़ने के लिए एक नया 12 मीटर चौड़ा पादचारी पुल डाउन कल्याण की तरफ प्लेटफॉर्म को जोड़ा गया है। साथ ही पश्चिम रेलवे के प्रभादेवी स्टेशन के उत्तर दिशा में प्लेटफॉर्म की लंबाई बढ़ा,साथ में 12 मीटर का पादचारी पुल जोड़ा गया है। परेल स्टेशन के टर्मिनस प्लेटफॉर्म पर सीएसएमटी की ओर पहले ही दो बायोटॉयलेट बनाया गया है।

16 घंटे के बाद मौत के मुंह से निकला बच्चा

0

200 फुट गहरे बोरवेल
में गिर गया था मासूम
दोपहर संवाददाता
मुंबई। गहरे बोरवेल में गिरा बच्चा आखिरकार 16 घंटे तक मौत से लड़ने के बाद सकुशल बाहर निकाल लिया गया। पुणे के आंबेगांव तालुका में एक मजदूर का छह वर्षीय बच्चा 200 फुट गहरे बोरवेल में गिर गया था, जिसे 16 घंटे के अथक प्रयासों के बाद गुरुवार को सकुशल बाहर निकालने में एनडीआरएफ टीम को सफलता मिली है। बच्चे को तत्काल अस्पताल में जांच के लिए भर्ती कराया गया है, जहां उसकी हालत बेहतर बनी हुई है। पुणे के आंबेगांव तालुका में नारायणगांव – थोरांदले गांव में नई सड़क बनाने का काम चल रहा था।
बुधवार की शाम को एक मजदूर का छह साल का बच्चा खेलते-खेलते अचानक गहरे बोरवेल में जा गिरा।
बच्चे का नाम रवि बताया गया है। घटना की जानकारी मिलते ही स्थानीय निवासियों ने बच्चे को बाहर निकालने का प्रयास किया, लेकिन सफलता नहीं मिली। उसके बाद घटना की जानकारी पुलिस विभाग को दी गई। पुलिस अधिकारियों ने तत्काल एनडीआरएफ को इस घटना की जानकारी दी। सूचना मिलते ही एनडीआऱएफ की टीम ने वहां पहुंचकर बचाव कार्य शुरू किया और गुरुवार की सुबह लगभग 16 घंटे के प्रयासों के बाद बच्चे को सकुशल बाहर निकाला गया।

लेटेस्ट न्यूज़